jadui chakki - Hindi Story

Best Hindi Story – Jadui Chakki | Sone ka Anda | 2 Kahaniya

Hindi Story Hindi Story for Kids Kahaniya Latest updates Story List Uncategorized

दोस्तों जब बात कहानियों की आती है तो हिंदी कहानियों की बात ही अलग है | हमारे भारत देश में आज भी लोगों को हिंदी कहानियां सुनना और सुनाना बहुत पसंद है | आज भी दादी और नानी अपने पोते पोतियो को मजेदार हिंदी कहानियां सुनाती हैं| ऐसा बोलो तो यह हमारे देश की संस्कृति ही है | मैं भी आज आपको तीन मशहूर कहानियां सुनाने जा रहा हूं जादुई चक्की या जादू की चक्की, सोने का अंडा और जादुई पेंसिल| इन तीनों कहानियों को आपको पढ़ने में बहुत ही मजा आने वाला है

Hindi Story – Jadui Chakki or Jadu Ki Chakki

1. जादू की चक्की (Jadui Chakki – Best Hindi Kahaniya)

एक बार की बात है एक शहर में दो भाई रहते थे एक बहुत अमीर था और दूसरा बहुत ही गरीब था | एक भाई के पास सब कुछ था वहीं दूसरे भाई के पास ना खाने को रोटी ना पहनने को कपड़े उसका परिवार भूख से मर रहा था | छोटा भाईअपने बड़े भाई से मदद मांगने जाता तो बड़ा भाई उसे दुत्कार कर भगा देता |

1 दिन वे काम की तलाश में भटक रहा था तो रास्ते में उसे एक बूढ़ी औरत मिली उसके पास लकड़ियों का एक गठन था | उसने कहा – मां जी यह बहुत भारी है लाइए मैं आपकी मदद कर देता हूं | बुढ़िया ने भी उससे कहा “क्या हुआ बेटा तुम इतने दुखी क्यों देख रहे हो” |

उसने जवाब दिया – मां जी मैं क्या करूं मेरा परिवार भूख से मर रहा है और मैं कुछ नहीं कर पा रहा हूं, मेरे पास कुछ काम भी नहीं है क्या आप मेरी मदद कर सकती हैं | बुढ़िया ने बोला अच्छा सुनो बेटा अगर तुम यह लकड़ियों का गट्ठर मेरे घर पहुंचा दोगे तो मैं तुम्हें एक ऐसा चीज दूंगी जिससे तुम अमीर हो जाओगे | छोटे भाई ने बोला ठीक है मां जी वह आदमी उस औरत के पीछे पीछे चल दिया और वह उस गट्ठर को लेकर उसके घर पहुंच गया | बुढ़िया ने उसका शुक्रिया किया और बोला भगवान ने चाहा तो तुम्हारी गरीबी जल्दी खत्म हो जाएगी |

Best Hindi Story or Kahaniya

ऐसा कह कर उस औरत ने उसे खीर दी यह लो इसे लेकर तुम जंगल में जाओ और कुछ ही दूर पर तुम्हें 3 आम के पेड दिखेंगे उनके पीछे एक चट्टान है ध्यान से देखोगे तो तुम्हें वहां एक गुफा दिखेगी उस गुफा के अंदर चले जाना | वहां तीन छोटे छोटे आदमी रहते उन्हें खीर बहुत पसंद है वह तुमसे यह खाने के लिए जरूर मांगेंगे और तुम उनसे इसके बदले में पैसे मत मांगना बल्कि तुम उनसे यह कहना मुझे इसके बदले में पत्थर की चक्की दे दो |

वह आदमी खीर लेकर जंगल की तरफ चल दिया रास्ते में उसे बहुत सारे पेड़ दिखाई दिए और कुछ दूरी पर चलने के बाद उसकी नजर एक आम के पेड़ पर पड़ी उसने ध्यान से देखा तो 3 आम आम के पेड़ त्रिभुज की तरह कतार में थे|

jadui chakki - Hindi Story

और बीच वाले पेड़ के नीचे चट्टान थी और उसमें गुफा का दरवाजा भी था|  वह अंदर गया तो तो छोटे-छोटे आदमियों ने उसके हाथ में खीर देखी और उससे कहा यह खीर हमें दे दो और इसके बदले में तुम हमसे जो चाहे ले लो | उसने बोला ठीक है यह मैं तुम्हें दे दूंगा परंतु तुम्हें इसके बदले में मुझे पत्थर की चक्की देनी होगी |

उन तीनों ने बोला हमें मंजूर है पर यह कोई मामूली चक्की नहीं है इसे घुमाते हुए तुम जो मांगोगे तुम्हें मिल जाएगा और इच्छा पूरी हो जाने पर तुम इस पर लाल कपड़ा डाल देना तो सामान बनना बंद हो जाएगा और चक्की (Jadui Chakki)रुक जाएगी | आदमियों ने उसे चक्की दी और वह चक्की (Jadui Chakki)लेकर चल पड़ा फिर वह अपने घर पहुंचा उसने देखा कि उसके बच्चे भूख के मारे जमीन पर पड़े हुए थे |

उसने अपनी पत्नी से कपड़ा बिछाने के लिए कहा कपड़ा बिछाने के बाद उसने वह चक्की (Jadui Chakki) उसके ऊपर रख दी और चक्की घुमाने लगा और बोलने लगा चक्की चक्की दाल निकाल और फिर वहां दाल का ढेर लग गया उसने चक्की पर लाल कपड़ा डाल दिया तो दाल निकलना बंद हो गई उसने कपड़ा हटाया और फिर से चक्की घुमाकर बोला चक्की चक्की चावल निकाल ऐसे ही वहां चावल का भी ढेर लग गया सभी ने भरपेट खाना खाया|

Akbar Birbal Hindi Story or Kahaniya

फिर उसने हर रोज चक्की (Jadui Chakki) से बहुत सी चीजें बनानी शुरू की आटा दाल चावल ज्वार बाजरा और वह सामान लाद उसे बाजार में बेचने निकल गया धीरे-धीरे उसके पास धन जमा हो गया और देखते ही देखते हुए अमीर हो गया उसने अच्छा घर बना लिया उसकी पत्नी और बच्चे अच्छे-अच्छे कपड़े पढ़ने लगे |

पर यह सब देखकर उसका बड़ा भाई हैरान हो गया और जलने लगा यह कैसे हो सकता है कुछ दिनों पहले तक तेरा भूखा मर रहा था और अचानक जिसके पास धन दौलत कहां से आ गया जरूर, उसने सोचा दाल में कुछ काला है |

इसी बात को पता लगाने वह छोटे भाई के घर जाकर छुप गया उसे अपने भाई के राज का पता चल गया अगले दिन मौका पाकर वे अपने भाई की चक्की चुरा लाया और अपने परिवार के साथ शहर छोड़कर एक बैलगाड़ी पर बैठ कर भाग गया रास्ते में उसने जाते-जाते चक्की आजमाने के बारे में सोचा तो उसने बोला चक्की चक्की नमक निकाल  चक्की (Jadui Chakki) से नमक का ढेर निकलना शुरू हो गया उसे चक्की को रोकने का तरीका तो मालूम ही नहीं था और देखते ही देखते वाह नमक की ढेर के नीचे दब गए और मर गए |

शिक्षा – इसलिए कहते हैं हमें किसी से ईर्ष्या नहीं करनी चाहिए, जितना हमारे पास है उसी में खुश रहना चाहिए |

दोस्तों हमें इस कहानी Jadui Chakki or Jadu ki Chakki से यह सीखने को मिलता है कि, हमें किसी से जलना नहीं चाहिए ना ही ज्यादा लालच करनी चाहिए और अगर कोई परेशानी में है तो उसकी मदद भी कर देनी चाहिए, जैसे छोटे भाई ने उस बुढ़िया की मदद की थी|

2.सोने का अंडा (Sone ka Anda – Best Hindi Story)

एक बार एक किसान के हाथ एक ऐसी मुर्गी लगी जो रोज एक सोने का अंडा देती थी| वह हर रोज एक सोने का अंडा बेच कर अमीर होता जा रहा था और धन का ढेर इकट्ठा करता जा रहा था, और नई नई वस्तु अपने परिवार के लिए लेकर आता | धीरे धीरे वह गांव में सबसे अमीर हो गया – नया घर , कई सारे घोड़े और बहुत सारा खेत और गाय-भैंसों का मालिक हो गया था |

Sone ka Anda

एक बार उसने सोचा मुर्गी रोज एक ही अंडा पैदा करती है ना जाने उसके पेट में कितने अंडे हैं | इसलिए उसने सोचा कि वह सारे अंडे निकाले कैसे,  उसके दिमाग में आया की करना क्या है उसका पेट फाड़ देते हैं, और सारे अंडे निकाल लेते हैं | यह सोचकर उसने मुर्गी का पेट फाड़ दिया, फिर मिलना क्या था जो रोज एक अंडा मिलता था, वे उससे भी हाथ धो बैठे तो

शिक्षा – इसलिए कहते हैं लालच बुरी बला है

दोस्तों इस कहानी Sone Ka Anda से भी हमें एक बहुत अच्छी सीख मिलती है हमें ज्यादा लालच नहीं करना चाहिए जितना मिले उतने में ही खुश रहना चाहिए अगर हम ज्यादा लालच करेंगे तो परिणाम स्वरूप हमें कुछ नहीं मिल पाएगा इसलिए हमें ज्यादा लालच नहीं करनी चाहिए |

3.जादुई पेंसिल (Jadui Pencil – Hindi Kahani)

एक गांव में विपिन नाम का लड़का रहता था और उसे चित्र बनाना बहुत पसंद था | नुकीले पत्थर से कच्ची जमीन पर और रेत पर चित्र बनाता रहता था उसके पास पेंसिल या कागज खरीदने के लिए पैसे नहीं थे वह हमेशा सोचता था काश मेरे पास पेंसिल होती तो मैं कितने सुंदर चित्र बनाता | लेकिन पेंसिल ना होने के बावजूद भी वह चित्र को रोज पूरी लगन से बनाता रहता | एक दिन जब वह चित्र बना रहा था तो उसे एक बूढ़ा आदमी मिला |

उसने विपिन को एक पेंसिल दी और कहा तुम इससे केवल गरीबों को चित्र बना कर देना और कभी जरूरत पड़े तो इसी पेंसिल के सहारे तो मुझे बुला लेना यह कह कर वह बूढ़ा आदमी गायब हो गया | विपिन बहुत खुश हुआ और उसने पेंसिल से एक आम का चित्र बनाया वाह क्या बात है अचानक ही वह आम असली हो गया फिर उसने एक कुत्ते का चित्र बनाया वह भी असली कुत्ता बन गया |

विपिन आश्चर्य में पड़ गया – यह क्या यह तो एक जादुई पेंसिल है बहुत बहुत शुक्रिया बूढ़े चाचा आपकी यह बात मैं हमेशा याद रखूंगा | अब उसने खाने का चित्र बनाया वह भी असली खाना बन गया फिर विपिन ने अपने मां पापा के लिए कपड़े फल और खाने के सामान बनाए वह भी असली हो गए | विपिन गरीबों को जो भी चाहिए होता था वह बनाकर दे देता गांव के लोग विपिन से बहुत ही खुश थे |

jadui pencil - Hindi story

क्योंकि वह गरीबों की सहायता करता था यह खबर राजा के कानों तक पहुंची राजा ने विपिन को बुलाकर आदेश दिया पहले एक सोने का पेड़ महल के बगीचे में बना दो और तुम्हारे यह पेंसिल मेरे हवाले कर दो | लड़के ने जवाब दिया – महाराज आपके पास बहुत सारा धन है, मैं केवल गरीबों के लिए ही चित्र बनाता हूं यह सुनकर राजा को गुस्सा आ गया और राजा ने उससे पेंसिल छीन लिया, और वह खुद सोने का पेड़ की चित्र बनाने लगा लेकिन वह चित्र के अनुसार सोने का पेड़ प्रकट नहीं हुआ, उसने फिर अपने मंत्री को उस पेंसिल से चित्र बनाने को कहा लेकिन उस चित्र से भी कोई चीज सामने प्रकट नहीं हुई|

राजा बहुत क्रोधित हो गया सुनो विपिन जैसा मैं कह रहा हूं तुम्हें वैसा ही चित्र बनाना पड़ेगा वरना मैं तुम्हें बंदी बना लूंगा | विपिन अपने मन में सोचने लगा अगर वह आदेश का पालन नहीं करेगा तो राजा उसे जेल में बंद तो करेगा तो वह गरीबों के लिए कुछ नहीं कर पाएगा | उसके दिमाग में एक बात आई और उसने झट से उस बूढ़े आदमी की तस्वीर बना दी और वह बूढ़ा आदमी तुरंत प्रकट हो गया जिसने उसे जादुई पेंसिल थी |

उसने राजा को समझाया सच कहूं तो आपके पास पैसे की कोई कमी नहीं है लेकिन वाकई में जो लोग गरीब है विपिन उनके लिए ढेर सारी खुशियां लाने के काम कर रहा है | लेकिन आपने उससे यह पेंसिल छीन ली, लेकिन आपसे इच्छा अनुसार है पेंसिल कोई काम नहीं करेगी ना ही उस चित्र में जान आएगी | विपिन के काम के प्रति लगन और ईमानदारी देखकर ही उसे यह पेंसिल मिली है | राजा को अपनी गलती का एहसास हो गया उसने बूढ़े आदमी और विपिन से माफी मांगी | बूढ़ा आदमी वहां से गायब हो गया, राजा ने विपिन का सम्मान किया

शिक्षा –  हमें इस कहानी से यह सीख मिलती है कि ईमानदारी और लगन से काम करना चाहिए, स्वार्थी नहीं बनना चाहिए |

दोस्तों आशा करता हूं कि आपको यह तीनों कहानियां बहुत पसंद आई होंगी | मैं ऐसे ही और भी बहुत सारी कहानियां आपको आगे सुनाने वाला हूं, इसके लिए आपको हमारी वेबसाइट Hindianusar.com पर विजिट करना होगा |
धन्यवाद

For More Hindi Story or Hindi Short Story or Kahaniya – Click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *