jadui kahaniyan or jadui machli

Jadui Kahaniyan | Jadu Ki Kahani | Jadui machli Ki Kahaniya

Hindi Story Hindi Story for Kids Jadui Kahaniyan Kahaniya Story List

Jadui Kahaniyan or Jadui Kahani –  दोस्तों जब बात आती है, कहानी की तो जादू की कहानी हमें सबसे दिलचस्प लगती है| जाहिर सी बात है आप लोगों को भी जादू देखना और जादू की कहानी पढ़ना पसंद होगा| आज भी नाना-नानी दादा-दादी अपने पोते पोतियो को जादू की कहानियां सुनाती है| मैं आज आपको जादू की कहानियां सुनाने जा रहा हूं, (Jadui Machli ki Kahani)

जादुई मछली और मछुवारा. (Jadui Kahaniyan or Kahani)

बहुत पुरानी बात है, एक समंदर के किनारे गांव में एक मछुवारा रहता था, एक दिन उसके जाल में एक ही मछली मछली फसी और वह उसे घर ले आया, और अपनी बीवी से कहा इसे काटकर पकवान बनाओ, जब उसकी बीवी ने मछली को काटा तो उसके अंदर से एक हीरा निकला तो मछुवारे ने कहा इसे मत पकाओ मैं इस हीरे हीरे को शहर ले जा रहा हूं, और इसे बेचकर हम खुशहाल जिंदगी गुजारेंगे, यह कहकर मछुआरा शहर की तरफ निकल पड़ा|

 

Jadui Kahaniya - Machali
Jadui Kahaniya

वह सोच रहा था, की हीरे को बेचकर खूब पैसा कमाऊंगा, लेकिन अचानक उसके दिमाग में ख्याल आया, कि हीरे को बेचना इतना आसान नहीं, और हीरे का खरीदार हीरे का सही कीमत नहीं देगा, और अगर वह खरीदार से बहस करेगा, तो खरीदार उसे बादशाह के सिपाहियों के हवाले कर देगा. इससे पैसा तो नहीं मिलेगा, लेकिन जेल की हवा जरूर खानी पड़ सकती है, उसने हीरा बादशाह को देने का इरादा बनाया और महल की तरफ चल पड़ा|

Hindi story or jadui kahaniya

जब महल में पहुंचा तो सिपाही ने पूछा कौन हो तुम और किस से मिलने आए हो, मैं बादशाह सलामत से मिलना चाहता हूं बादशाह सलामत तुमसे क्यों मिलेंगे, यह सुनकर मछुवारा बहुत मायूस हो गया, और बोला मुझे बादशाह सलामत से किसी भी कीमत पर मिलना है, मैं उनसे कुछ नहीं मांगूंगा, मैं उन्हें एक चीज देख कर चला जाऊंगा, सिपाही ने कहा अगर मैं तुम्हें अंदर जाने देता हूं तो मुझे सजा मिलेगी, तुम मुझे पहले वह चीज दिखाओ, और मैं उसे बादशाह के सामने पेश कर दूंगा|

बताओ तो सही तुम क्या लाए हो, फिर मछुआरे ने सिपाही को हीरा दिखाया, सिपाही हीरा लेकर राज महल के अंदर चला गया, और उधर से कुछ देर बाद रेशम का कपड़ा लेकर आया, और मछुआरे से कहा हीरे के बदले में बादशाह सलामत ने तुम्हें यह रेशम के कपड़े तोहफे में दिए हैं| फिर मछवारा निराश होकर बोला बादशाह सलामत में हीरे के बदले में यह कपड़ा ही दिया है, फिर सिपाही ने कहा तो क्या मोती के बदले में तुम्हें अपना आधा रियासत दे दे,

jadui machli or machhiwara
Jadui Machli or Machhiwara

यह सुनकर मछुआरा अपने घर चला गया, दरअसल सिपाही ने व कीमती हीरा बादशाह सलामत को दिया ही नहीं था, अगले दिन सिपाही हीरे को लेकर जोहरी के पास गया, जोड़ी ने उस हीरे के बदले में सिपाही को 10000 रुपए दिए, फिर जोहरी सोचने लगा कि यही हीरा तो 25000 हजार का है, इसे कौन खरीदेगा, अब जौहरी इस हीरे को बेचने के लिए बादशाह सलामत के पास गया, और उसे हीरा दिखाया बादशाह ने हीरा अपने महल के जोहरी को दिखाया|

तो जौहरी ने कहा बादशाह सलामत इस हीरे की कीमत तो लगभग 50000 रुपए हो सकती है, तो बादशाह सलामत ने जौहरी से पूछा सच बताओ यह हीरा तुम्हारे पास कहां से आया, जौहरी ने कहा बादशाह सलामत से कहा, मैं आपसे सच नहीं छुपाना चाहता, यह हीरा मैंने आपके सिपाही से खरीदा है, बादशाह ने सिपाही को दरबार में बुलाया, और पूछा जो हीरा तुमने जोहरी को दिया है, वह हीरा तुम्हारे पास कहां से आया, बादशाह सलामत हीरा मुझे एक मछुवारा ने दिया था,

Best Jadui Kahaniyan or Jadu ki Kahani

और मैंने उसे रेशम के कपड़े दिए थे, कौन मछुवारा क्या नाम है, उसका सिपाही ने कहा मैं उसे नहीं जानता, फिर अगले दिन पूरे गांव में यह ऐलान कर दिया गया, कि सभी को राज महल में बुलाया गया है, बादशाह ने जौहरी और सिपाही को भी बुलाया, राज महल में सिपाही और मछुवारा ने एक दूसरे को पहचान लिया, और बादशाह ने हीरे के बारे में मछुवारा से पूछा तो मछुआरे ने पूरा माजरा बादशाह को बता दिया,

बादशाह ने अपने सिपाही को कालकोठरी में डाल दिया, और मछुवारे को सही कीमत दी,मछुवारा पैसे लेकर अपने घर चला गया, और अपनी बीवी के साथ खुशी-खुशी जीवन बिताने लगा |

आशा करता हूं दोस्तों आपको यह Jadui Machli ki kahani या यह Jadui kahaniyan पसंद आई होगी| मैं आपको ऐसी ही और Jadui Kahaniyan ya Jadu ki Kahani सुनाने वाला हूं |

जादुई मछली. (Jadu Ki kahani or Jadui Kahaniya)

गांव में जगदीश नाम का एक आदमी रहता था, उसका काम गुप्त धन का शिकार करना था, हमेशा ऐसी चीजों की खोज में रहता था जो छुपी हुई हो कीमती हो और बहुत खूबसूरत, अगर यह जादुई मछली मिल गई, तो मैं बहुत अमीर हो जाऊंगा और पूरी दुनिया मेरी मुट्ठी में होगी, एक काम करता हूं, अपने दोस्तों को लेकर समुंद्र की गहराई में जाकर इस मछली को ढूंढता हूं, कहीं ना कहीं तो मुझे मिल ही जाएगी,

उसी गांव में बिट्टू नाम का छात्र रहता था जो सोचता और अकेला रहता था, बिट्टू को समंदर किनारे बैठने का बहुत शौक था, वह रोज की तरह समुंदर के किनारे किताब लेकर बैठा था, इतने में जगदीश अपने दोस्तों के साथ मुझे याद जादुई मछली चाहिए, मैं उसे आज पकड़ कर ही रहूंगा, अरे वह देखो वह रही जादुई मछली जल्दी पकड़ो कहीं भाग ना जाए, जगदीश के दोस्तों ने जादुई मछली को पकड़ लिया, और नाव में चढ़ाकर किनारे की तरफ आ रहे थे,

Jadui machli ki Kahaniya

तभी अचानक तेज आंधी आई और नाव टूट गई, और मछली उड़कर किनारे पर बैठे बिट्टू के गोद में जा गिरी, उस मछली को देखकर बिट्टू बहुत खुश हो जाता है, और उसे ले जाकर घर में एक शीशे के घड़े में रख देता है, बिट्टू हर रोज उससे खेलता रहता था 1 दिन बिट्टू स्कूल से लौटकर घड़े से थोड़ा सा दूर बैठकर कुछ सोच रहा होता है, बहुत देर बिट्टू को देखने के बाद मछली बोलती है, अरे बिट्टू तुम क्या सोच रहे हो, जादुई मछली की बात सुनकर बिट्टू ने बोला आज मुझे टीचर ने डांटा, आज मैं होमवर्क करके नहीं गया था, ना मुझे पढ़ाई नहीं आती |

magical fish
magical fish

बिट्टू की परेशानी सुनकर जादुई मछली बोलती है, बस इतनी सी बात को लेकर तुम परेशान हो आज से तुम अपनी पढ़ाई में सबसे होशियार रहोगे, और अपना होमवर्क सबसे पहले खत्म कर लोगे, बिट्टू ने बोला ऐसा कैसे हो सकता है, मैं और सबसे आगे यकीन नहीं होता, फिर जादुई मछली ने उसे एक अंगूठी देती है, और कहती है, यह लो अपने उंगली में पहन लो बस इस पल से तुम सबसे ज्यादा होशियार बन जाओगे,|

Read best Jadui kahaniyan or Jadu ki kahani

और अगले दिन जब बिट्टू स्कूल जाता है, तो टीचर बिट्टू से पूछती है होमवर्क किया कि नहीं कुछ पढ़ कर आए हो, तो बिट्टू ने कहा मैंने होमवर्क भी कर लिया और पढ़कर भी आया हूं, यह सुनकर बिट्टू के टीचर को उसके ऊपर भरोसा नहीं होता, और वह बिट्टू से बहुत सारा सवाल करती है, बिट्टू सारे सवाल का जवाब देता है, या देखकर बिट्टू की टीचर हो जाती है, स्कूल खत्म होने के बाद बिट्टू अपने घर आ जाता है, और जादुई मछली से कहता है आज मैं बहुत खुश हूं |

पता है आज जब स्कूल में टीचर ने मुझसे सवाल किए तो मैंने सारे सवाल के जवाब दे दिए, यह सब देखकर टीचर हैरान हो गई, तुमने मेरी यह विश पूरी की उसके लिए बहुत-बहुत शुक्रिया, लेकिन क्या तुम मेरी एक और विश पूरी कर सकती हो, मैं चाहता हूं, कि हम दोनों मिलकर समुंद्र की गहराई में खेले ऐसा हो सकता है क्या, यह सुनकर जादुई मछली ने कहा चलो आज मैं तुम्हें समुंदर की सैर कराती हूं,

Best Jadui Kahaniyan or Jadu ki kahani for kids and adults.

बिट्टू और जादूई मछली दोनों समुंदर की गहराई मैं जाकर बहुत मौज मस्ती करते हैं जादुई मछली समुंदर के पानी में बहुत खुश थी, और बहुत आनंद ले रही थी, फिर बिट्टू को यह एहसास हुआ, की जादुई मछली का यही घर है वह यही खुश रह सकती है, लेकिन जैसे ही वह उसे छोड़ने का सोचता है, उसी वक्त वहां जगदीश आ जाता है, और कहता है देखो वह रही जादुई मछली उसे पकड़ लो, इस बार छोड़ना नहीं है|

 

jadui kahaniyan
Jadui machil ki kahaniya

जगदीश को आटा दे बिट्टू उसको रोकने की कोशिश करता है, यह मेरा दोस्त है, इसे पकड़ने के बारे में सोचना भी नहीं जगदीश बिट्टू का बात नहीं मानता है, फिर बिट्टू और जादुई मछली जगदीश को सबक सिखाने का फैसला करते हैं, दोनों मिलकर जगदीश की नाव में तोड़फोड़ कर देते हैं, जगदीश नाम से गिर जाता है और कहता है, बचाओ बचाओ फिर बिट्टू ने बोला अगर दोबारा यहां दिखे तो तो अगली बार हम तुम्हें छोड़ेंगे नहीं,|

जगदीश को अपनी गलती का एहसास होता है इस पर जादुई मछली (Jadui Machli) और बिट्टू उसे माफ कर देते हैं, और किनारे पर लाकर छोड़ देते हैं, उसके बाद बिट्टू जादुई मछली से कहता है, अब मैं यहां से जा रहा हूं, आप अपने पानी में ही जाओ वही तुम्हारा असली घर है, जादुई मछली बहुत उदास हो जाती है उसका मन बिट्टू को छोड़कर जाने का नहीं कर रहा था

बिट्टू ने कहा यही तुम्हारा घर है तुम यही खुश रहोगी,यह लो तुम्हारी अंगूठी अब मैं अपनी मेहनत से ही पढ़ाई करूंगा, इसके बाद जादुई मछली और बिट्टू एक दूसरे को अलविदा कहते हैं और अपने अपने घर वापस आ जाते है,

आशा करता हूं दोस्तों आपको यह Jadui Machli ki kahani या यह Jadui kahaniyan पसंद आई होगी| मैं आपको ऐसी ही और Jadui Kahaniyan ya Jadu ki Kahani सुनाने वाला हूं |

आशा करता हूं दोस्तों आपको यह भी Jadui Machli ki kahani or Jadui kahaniyan पसंद आई होगी| ऐसी ही Jadui Kahaniyan ya Jadu ki Kahani पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट पर रोजाना विजिट करें |

For Akbar Birbal story in Hindi Click here

For Tenali Rama story in Hindi Click here

For Hindi story list Click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *